Sant Shri
  Asharamji Ashram

     Official Website
 

Register

 

Login

Follow Us At      
40+ Years, Over 425 Ashrams, more than 1400 Samitis and 17000+ Balsanskars, 50+ Gurukuls. Millions of Sadhaks and Followers.
Recent Articles
5 Apr 15 I am now moving to bring out jail on bail Sri Asaram Bapu because the rape case is bogus. TDK responsible for arrest. - Subramanian Swamy
I am now moving to bring out jail on bail Sri Asaram Bapu because the rape case is bogus. TDK resp..... Read more..
4 Apr 15 दरकिनार हुआ समानता का सिद्धांत
क्या भारत में न्याय के लिए राजनेता या अभिनेता होना ही अनिवार्य हैं ? .. Read more..
4 Apr 15 यह कैसा है जादू समझ में ना आया
 यह कैसा है जादू समझ में ना आया .. Read more..
24 Mar 15 आज भी नहीं हो पायी संत आशारामजी बापू के भानजे की अंत्येष्टि
आज भी नहीं हो पायी संत आशारामजी बापू के भानजे की अंत्येष्टि शंकर भाई की अंतिम इच्छा के लिए हो रह..... Read more..
अमृत प्रजापति और महेन्द्र चावला के बारे में सच्चाई (Sant Shri Asharam Ji Bapu)

 अमृत प्रजापति ने अपने ही मुँह से उगले राज

आश्रम से निकाला गया वैद्य अमृत गुलाबचंद प्रजापति आश्रम आने से पूर्व अपना निजी दवाखाना चलाने में निष्फल हुआ था और अपने देहात के दवाखाने का सारा सामान बेचकर आश्रम में आया था।

सन् 2005 में आश्रम से निकाले जाने के कुछ वर्ष पूर्व उसने भक्तियोग फार्मेसीट्रस्ट के नाम से अपने निजी दवाखाने, पंचकर्म सेंटर व दवा बनाने की फार्मेसी आदि शुरू करवाये। वह आश्रम में आनेवाले मरीजों को वहाँ भेजकर महँगा इलाज करवाता था और अपनी भक्तियोग फार्मेसीकी गाड़ियाँ आश्रम के बाहर खड़ी रखवाकर वहीं से दवाई लेने हेतु आग्रहपूर्वक निर्देश देता था। उसका मुख्य उद्देश्य था बापूजी पर आस्था रखकर आनेवाले मरीजों से पैसा लूटना।

मरीजों से पैसे लूटने की प्रवृत्ति तक वह सीमित नहीं रहा बल्कि आश्रम में आनेवाली महिला मरीजों के साथ अभद्र और अष्लील व्यवहार करके चिकित्सक के व्यवसाय पर उसने धब्बा लगा दिया। उसे कई बार समझाया गया, कई बार सुधरने का मौका दिया गया और कई बार उसने माफी भी माँग ली लेकिन उसमें परिवर्तन नहीं आया, उसने दुष्ट वृत्ति नहीं छोड़ी इसलिए उसे आश्रम से निकाल दिया गया।

अमृत वैद्य अपनी लोभी व विषयी वृत्ति को वश में नहीं रख पाया। उसने गरीब मरीजों के पैसे लूटे, महिला मरीजों के साथ चिकित्सा के बहाने अष्लील हरकतें कीं... और अंत में नीचता की सभी हदें पार करते हुए दुष्ट तत्त्वों के साथ मिलकर पूज्य बापूजी पर बेबुनियाद आक्षेपों की बरसात की और कृतघ्नता की पराकाष्ठा पर पहुँच गया।

आश्रम से निकाले गये वैद्य अमृत प्रजापति ने पहले तो आश्रम पर तांत्रिक विधि के झूठे, बेबुनियाद आरोप लगाये और फिर 13-3-2010 को न्यायाधीश श्री डी.के. त्रिवेदी आयोग के समक्ष सच्चाई स्वीकार करते हुए कहा था : ‘‘मैं जितना समय आशारामजी के आश्रम में रहा हूँ, वहाँ मैंने तंत्रविद्या होते हुए देखा नहीं है।’’

पूर्व में एक फैक्स के माध्यम से पूज्य बापूजी को जान से मारने की धमकी दी गयी थी तथा बापूजी से 50 करोड़ रुपये की फिरौती माँगी गयी थी। एक सप्ताह में फिरौती न देने पर पूज्य बापूजी व नारायण साँईं को तंत्रविद्या के, जमीनों के, लड़कियों के तथा अन्य फर्जी केसों में फँसाने की धमकी दी गयी थी। इस फैक्स के संदर्भ में अमृत वैद्य ने स्वीकार किया कि ‘‘इसमें जो मोबाइल नम्बर और लैंडलाइन नम्बर लिखे हैं, वे मेरे ही हैं। इस फैक्स में जो नाम लिखे हैं - महेन्द्र चावला (पानीपत), राजू चांडक (साबरमती), दिनेश भागचंदानी (अहमदाबाद), शेखर (दिल्ली), शकील अहमद तथा के. पटेल- इनको मैं पहचानता हूँ।’’

मीडिया में बुरकेवाली औरत द्वारा बापूजी पर झूठे आरोप लगाये जाने के बारे में त्रिवेदी आयोग के सामने अमृत प्रजापति ने असलियत स्वीकारी थी कि ‘‘मैंने मेरी पत्नी को स्वयं अपने हाथों से बुरका पहनाया था और पत्रकारों के सामने झूठा बयान दिलवाया था।’’

अमृत वैद्य को आश्रम से निकालते समय (दिनांक 9-2-05) की एक विडियो सीडी जाँच आयोग के समक्ष प्रस्तुत की गयी। सीडी में अमृत वैद्य ने उसके द्वारा आश्रम के नियमों को भंग किये जाने की बात स्वयं ही कबूल की थी।

2009 में अमृत वैद्य की लापरवाही व गलत इलाज से बड़ौदा में पीएच.डी. कर रहा एक नवयुवक हरिकृष्ण ठक्कर मर गया था। लोगों को ठगने के लिए ऐसे और भी कई फर्जी काम हैं जो अमृत वैद्य ने किये और फिर रंगे हाथों पकड़ा गया। जैसे बिना प्रमाणपत्र के ही नाम के आगे एम.डी.लिखना, अपने को चरक (प्रसिद्ध आयुर्वेदिक दवा कम्पनी) का मान्यताप्राप्त कन्सलटैंट बताना आदि।

 

महेन्द्र चावला व उसके आरोपों की हकीकत

चालबाज महेन्द्र चावला ने भी स्वयं लगाये हुए झूठे आरोपों की पोल खोलते हुए न्यायाधीश श्री डी.के. त्रिवेदी जाँच आयोग के समक्ष कहा था कि ‘‘मैं अहमदाबाद आश्रम में जब-जब आया और जितना समय निवास किया, तब मैंने आश्रम में कोई तंत्रविद्या होते हुए देखा नहीं।’’ उसने यह भी स्वीकारा कि ‘‘यह बात सत्य है कि कम्प्यूटर द्वारा किसी भी नाम का, किसी भी प्रकार का, किसी भी संस्था का तथा किसी भी साइज का लेटर हेड तैयार हो सकता है। बनावटी हस्ताक्षर किये गये हों, ऐसा मैं जानता हूँ।’’

साधारण आर्थिक स्थितिवाला महेन्द्र अचानक हवाई जहाजों में कैसे उड़ने लगा? यह बात षड्यंत्रकारियों के बड़े गिरोह से उसके जुड़े होने की पुष्टि करती है।

महेन्द्र के भाइयों ने पत्रकारों को दिये इंटरव्यू में बताया : ‘‘हमारी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। महेन्द्र की आदतें बिगड़ गयी थीं। वह चोरियाँ भी करने लगा। एक बार वह घर से 7000 रुपये लेकर भाग गया था। उसने खुद के अपहरण का भी नाटक किया था और बाद में इस झूठ को स्वीकार कर लिया था।’’

अब ये ही महेन्द्र चावला और अमृत वैद्य मीडिया में आकर मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं। इनकी वास्तविकता जानने के बाद इनके मनगढ़ंत प्रलाप पर कोई भी विश्वास नहीं रखेगा।

 

  Comments

request
Created by brijendra mishra in 10/30/2013 12:22:20 AMall the including devotees of bapu ji requested participate in politics also because law and orders are in the politicians pocket now a days
New Comment
Created by Raj kumar in 10/13/2013 5:21:16 PMHARI OM Shri sadguru dev ji ke charno me koti koti vandan ,Guru bhaion ko parnam. sare bakau chanal 24 ghante Bapu ji ke lie kuparchar kare to bhi sadhko ki shardha tod nahi sakte Ashram se nikale gaye do suaro ko ghatia media ne hero bana kar logo ko gumrah karne ka paap jo kia hai is se uski dikag ka diwalia pan ab sab logo ko pata pata chal chuka hai. Bapu ji ka ek-ek sadhak news chanal hai. 6 crore news chanal is bikau media se jayada takatvar hai ,Sawa lakh se ek ladau tabhi ASA RAM BAPU Naam kahau, JAI GURU DEV
bapu ji satya hai
Created by sanjay patna sadhak in 10/13/2013 5:00:23 PM bapu ji par jhutha arop hai eight year pahle ka mamla hai jiska kuch proof nahi hai sajis ki badbu hai god sahara hai sab kuch thik ho jayega satya ki jit hoti hai sadhak bhai dhairya rakhe jai sri ram
New Comment
Created by chatraram in 10/12/2013 8:10:23 PMGhi kabhi bhi pani nahi ho sakta or jhuthe aarop kabhi sach nahi ho sakta

Mere BAPU ji to mhan jo etna sab kuchh hone ke bad bhi santh.

bas dukh hota h ki jis samaj ke lie BAPU JI etna sudhar kia vahi samaj BAPU ji ke pichhe para.

New Comment
Created by Anonymous pravin parmar in 10/11/2013 3:15:20 PMNew Comment he guru dev kitna bhi. Ku prachr ho.par. HMari.sradhdha4 par. Ot na aa ne. Dena.
New Comment
Created by Anonymous in 10/11/2013 12:13:11 PMNARAYAN HARI, LAKHO KARODHO SADHAK OR BHAKT PARAM PUJYA GURUDEV JI PAR ASTHA OR VISHWAS RAKHTE HE, OR YAH ASTHA OR VISHWAS KISI KE KAHNE PAR NHAI RAKHTE BALKI ISLIYE RAKHTE HE KI UN LAKHO KARODHO BHAKTO KO PUJYA GURUDEV JI SE JO GYAN JO ANAND OR JO SANTI MILTI HE WAH SHATI TO ACCHE ACCHE BADSHAHO KO BHI NASEEB NAHI HOTI, YE AROP LAGANE WALE KYA JANE BICHARE KI GYAN KA ANTAR ATMA KE DHYAN KA ANAND KYA HOTA HE KYOKI WE BICHARE SANSAR CHAKRA SE BAHAR NIKAL HI NAHI PATE KYOKI UNKE PASS AISA SACCHA MARG DIKHANA WALA SADGURU NAHI HE, KISI KE PASS SAB KUCH HOTA HE TO JALTI HE DUNIYA KISI KE PASS KUCH NAHI HOTA TO HASTI HE DUNIYA KI KUCH BHI NAHI HE MAGAR GURU JI HAMARE PASS TUMHARE JAISA JOGI HE JISKE LIYE TARASTI HE DUNIYA TARASTI HE DUNIYA
New Comment
Created by Anonymous in 10/10/2013 5:03:28 PMPUJYA GURUDEV JI, CHAHE YAH SARA SANSAR APNI SARI SHAKTI LAGAKAR BHI KUPRACHAR KAR LE MAGAR HAMARI SHRADHHA OR VISHWAS KI DOR KO TODH NAHI SAKTA, SATYA KI VIJAY SANATAN SATYA HE OR SATYA HI SADA VIJAYI HOTA HE

NARAYAN HAI

Hi tec hone ki jarurt
Created by Gopal verma in 10/9/2013 11:18:25 PMJai jai sai Ashram jab ram ji ko nag fas ne bandhliya tha to Garunji ne mukt kiya tha aur Ramji se kha He bghgvan aap in rascho se savdhan ho ker yudh kiya karo He aasrm ke bhai bheno aaj ke jamne ke hisab Hitec ho jao Harkisi pe Visvas mt kiya kro Aasram mae cctv camre lagwne ki jarurt hi sabke id proof liya karo etc..Arji hi meri marji hi aap ki Hariomi hariom
sting operation CD 2008
Created by Anonymous in 10/9/2013 3:22:35 PMNEWS CHHANEL KO WO 2008 M KIYA GYA STING OPRERATION KOjisme raju chandak ne kuch bada krne ki aashnka jatai thi jo ki wo ab kr rha h osko link kerke ye ssab fir se news chhanel me bhej dena chahiye 1 bhi chhanel osko dekha dega to sahi h nhi bhi dekhayega to bhi news chanel wale shadyentr karikion ko blackmail krke paiso ke liye preshan to kr hi denge .......osse uper m ye kehna chahta hn aajkal jo dikhta h wo bikta h to os sting operation wali CD ko fir se update karna chahiye ki ye jo aaj ho rha h oski tayiri 2008 se chal rhi thi or ab ajaam m di gyi h .....hari om
Hari Om.....
Created by Narvada in 10/9/2013 1:14:39 PM media ye bhi to dikhaye.Please arrange to publish these facts in newspapers and also show it on A2Z and Sudharshan TV channel.
Page 1 of 2First   Previous   [1]  2  Next   Last   

Your Name
Email
Website
Title
Comment
CAPTCHA image
Enter the code
  
Copyright © Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved. The Official website of Param Pujya Bapuji