Sant Shri
  Asharamji Ashram

     Official Website
 

Register

 

Login

Follow Us At      
40+ Years, Over 425 Ashrams, more than 1400 Samitis and 17000+ Balsanskars, 50+ Gurukuls. Millions of Sadhaks and Followers.
Recent Articles
5 Apr 15 I am now moving to bring out jail on bail Sri Asaram Bapu because the rape case is bogus. TDK responsible for arrest. - Subramanian Swamy
I am now moving to bring out jail on bail Sri Asaram Bapu because the rape case is bogus. TDK resp..... Read more..
4 Apr 15 दरकिनार हुआ समानता का सिद्धांत
क्या भारत में न्याय के लिए राजनेता या अभिनेता होना ही अनिवार्य हैं ? .. Read more..
4 Apr 15 यह कैसा है जादू समझ में ना आया
 यह कैसा है जादू समझ में ना आया .. Read more..
24 Mar 15 आज भी नहीं हो पायी संत आशारामजी बापू के भानजे की अंत्येष्टि
आज भी नहीं हो पायी संत आशारामजी बापू के भानजे की अंत्येष्टि शंकर भाई की अंतिम इच्छा के लिए हो रह..... Read more..
षड्यंत्र के खिलाफ संत-समाज का शंखनाद (Sant Shri Asharam Ji Ashram)

 षड्यंत्र के खिलाफ संत-समाज का शंखनाद

काशी सुमेरु पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य श्री स्वामी नरेन्द्रानंद सरस्वतीजी महाराज : ‘‘षड्यंत्रों के तहत हिन्दू समाज पर अन्याय, अत्याचार बंद किया जाना चाहिए। संतों के सम्मान, स्वाभिमान की रक्षा होनी चाहिए। अगर संतों को जेल में डालकर बदनाम करने का षड्यंत्र होता रहा तो भारत की अस्मिता, भारत की संस्कृति सुरक्षित नहीं रह पायेगी। इसे सुरक्षित रखने के लिए सबको एकजुट हो के प्रयास करना होगा। और वह दिन दूर नहीं कि आशारामजी बापू आप सब लोगों के बीच में आयेंगे, आरोपों से बरी होंगे और राष्ट्रहित, समाजहित होगा।’’

श्री अशोक सिंहलजी, वि.हि.प. के मुख्य संरक्षक व पूर्व अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष : ‘‘पूरे देश के भीतर एक प्रकार का वातावरण बनाया जा रहा है। हमारे संतों पर झूठे आरोप लगाये जा रहे हैं। हमारे पूज्य संत आशारामजी बापू की 73 वर्ष उम्र है, उनके ऊपर रेप का चार्ज लगाकर उनको गिरफ्तार करते हो? यह गिरफ्तारी हिन्दू समाज को बताने के लिए है कि तुम्हारे अंदर जो संतों का सम्मान है, निष्ठा है, जो श्रद्धा का भाव है इसको हम मिटाकर रख देंगे।’’

अखिल भारतीय संत समितिके राष्ट्रीय महामंत्री, महामंडलेश्वर श्री देवेन्द्रानंद गिरिजी महाराज : ‘‘अखिल भारतीय संत समिति के संत पूज्य बापूजी के साथ हैं। अब देश में महान क्रांति होगी!’’

हिन्दू  महासभा  के  राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणिजी महाराज: ‘‘पूज्य बापूजी पर झूठे इल्जाम लगाये जाते हैं, बड़ा दु:ख होता है। जिन्होंने कमाल की राष्ट्रसेवा का काम किया है ऐसे संत पर पॉक्सो एक्टका परीक्षण किया जा रहा है! धिक्कार है!! वास्तव में पूज्य बापूजी केवल एक संत नहीं हैं, संत-शिरोमणि हैं।’’

महामंडलेश्वर आचार्य श्री सुनील शास्त्रीजी महाराज : ‘‘मैं आज पूर्णत: बिके हुए कुछ लोगों से सवाल करना चाहूँगा कि जब संविधान हमें कहता है कि जब तक दोष साबित न हो जाय तब तक उसे दोषी न माना जायेगा तो आपने हमारे संत आशारामजी बापू को दोषी कैसे कहा? यह भारत के संविधान की अवमानना है। 6 करोड़ अनुयायियों के दिलों में तलवार घोंपना- क्या यह भारत के संविधान की हत्या नहीं है?

जगद्गुरु जयेन्द्र सरस्वती पर भी आपने आरोप लगाया, सर्वोच्च न्यायालय में वे निर्दोष साबित हुए। क्यों नहीं मीडिया ने दिखाया? आज तक आपने माफी क्यों नहीं माँगी? हमारे संत-समाज का बहुत बड़ा संघ है। ये शांति-शांति-शांति...कहते हैं इसलिए इनको इतना शांत मत समझो, क्रांति... क्रांति...!’’

अखिल भारतीय संत समिति, हरियाणा के महामंत्री महामंडलेश्वर सूर्यानंद सरस्वतीजी : ‘‘बापूजी बेदाग हैं, पाक हैं। इस सत्य की रक्षा के लिए जन-जन को आगे आना पड़ेगा।’’

आश्रम निर्मल कुटियाके अध्यक्ष संत श्री बाबा देविन्दरसिंहजी: ‘‘बापू आशारामजी जैसे महात्मा जो लाखों लड़कियों की इज्जत बचाने के लिए नित्य परिश्रम करते हैं, उनके ऊपर यह षड्यंत्र रचना बहुत निंदनीय है।’’

हिन्दू जनजागृति समितिके राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री रमेश शिंदेजी : पूज्य बापूजी निर्दोष हैं। जिसमें व्याभिचार होता था उस वेलेंटाइन डेको बदलकर बापूजी ने मातृ-पितृ पूजन दिनबनाया है। जो गलत राह पर जाते थे उन युवाओं को सही मार्ग पर लानेवाले बापूजी हैं और उनके ऊपर ये कैसे आरोप लगाते हैं!’’

गौरक्षा सेनाके राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री आशु मोंगिया : ‘‘जो बापू के बारे में पेड समाचार छाप रहे हैं, उनसे मैं एक चीज पूछता हूँ कि क्या आप लोग कोई यथार्थ काम करते हैं या सिर्फ पैसा ले के काम करते हैं?’’

विश्व हिन्दू परिषदके केन्द्रीय मार्गदर्शक श्री  लक्ष्मी  नारायणजी (दायमा): ‘‘पूज्य बापूजी ने अपने जीवन की पूरी शक्ति, पूरी आध्यात्मिक शक्ति इस समाज को खड़ा करने के लिए लगा दी है। अब समाज इस शक्ति का सदुपयोग करे और कहे कि बापूजी! अब हम आपका अपमान नहीं सहेंगे, नहीं होने देंगे। आपका अपमान समाज का अपमान है।’’

हिन्दू राष्ट्रनिर्माण महासंघके अध्यक्ष स्वामी श्री ओमजी महाराज: ‘‘हमारे परम पूज्य बापूजी भारत के गौरव हैं, हिन्दू धर्म के गौरव हैं।’’

अखिल भारतीय संत समिति’, गुजरात राज्य के अध्यक्ष श्री महंत स्वामी विश्वेश्वरानंदजी : ‘‘जो संस्थाएँ भारत के विकास का काम कर रही हैं, उन पर कुठाराघात किया जा रहा है। पूज्य बापूजी जैसे महापुरुष पर ऐसे तुच्छ आरोप लगाये जाते हैं! हम यह सहन नहीं करेंगे।’’

महामंडलेश्वर श्री परमात्मानंदजी महाराज: ‘‘पूज्य बापूजी हमारे विश्वगुरु हैं। जहाँ राम तहाँ नहीं काम। जहाँ साक्षात् आशाराम बैठे हों वहाँ काम का क्या काम है? ये जितना दुष्प्रचार है उसके पीछे पैसा है, राजनैतिक व धर्मांतरण करनेवाली ताकत है और अनेक एनजीओज् का रूप लेकर फैले हुए भारतीय संस्कृति को नष्ट करनेवाले षड्यंत्रकारी हैं।’’

क्रांतिसेनाके अध्यक्ष स्वामी चिदानंदजी महाराज : ‘‘परम पूज्य आशारामजी बापू के ऊपर चल रहा यह षड्यंत्र विदेशी ताकतों द्वारा रचा जा रहा है। हमारी क्रांतिसेना के हजारों युवक, जो धर्म के लिए क्रांति करने के लिए तैयार हैं, उन्हें मैं यहाँ धर्मरक्षार्थ समर्पित करता हूँ।’’

सनातन संस्थाके राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री अभय वर्तकजी : ‘‘पूज्य बापूजी के ऊपर जो कीचड़ उछाला गया है, जो सरासर झूठे आरोप लगाये गये हैं यह देख के, सुन के हरेक हिन्दू के मन को पीड़ा हुई है। जो चैनल हमारे पूजनीय बापूजी के ऊपर कीचड़ उछालता है, उस बिके हुए चैनल को पहले घर से निकाल देना चाहिए। हम बिकी हुई पत्रिका भी नहीं पढ़ेंगे।’’

श्रीराम सेनाके अध्यक्ष श्री प्रमोद मुतालिकजी : ‘‘दुष्ट लोग यह जो अपमान कर रहे हैं वह बापूजी का अपमान नहीं है, हिन्दू समाज का अपमान है, भारत का अपमान है।’’      

अखिल भारतीय संत समितिके उपाध्यक्ष श्री परमेश्वरदासजी महाराज : ‘‘पूज्य बापूजी जैसे संत तो कामवासनाओं से हजार कोस दूर रहते हैं। उन पर ऐसे घृणित आरोप लगवाना कितना दुर्भाग्यपूर्ण है।’’

मौलाना बिलाल अब्दुल करीम कादरी : ‘‘यकीन मानो बापूजी सच्चे हैं, अच्छे हैं, अल्लाह के नेक बंदे हैं।’’

श्रीकृष्ण प्रणामी सम्प्रदायके डॉ. मस्त बाबाजी : ‘‘कुछ राजनेता और बिकाऊ मीडियावाले देश को बरबाद करने में लगे हुए हैं, हमारे संतों का अपमान करने में लगे हुए हैं। अब आप जागो और जगाओ, गलत प्रचार पर ध्यान मत दो।’’ 

युवा क्रांतिद्रष्टा संत दिनेश भारतीजी : ‘‘पाखंडी जो पैसे से तुलते हैं, वे बापूजी के ऊपर आक्षेप लगाते हैं। उनको अखिल भारतीय संत समितिके पद से ही निकाल दिया गया। संत समिति को धन्यवाद है!’’

पाटेश्वर धाम के अधिपति महात्यागी रामबालकदासजी : ‘‘यह बापूजी पर हमला नहीं है, यह संत-समाज पर हमला है।’’

सुदर्शन चैनलके चेयरमैन श्री सुरेश चव्हाणके : ‘‘आज इस दुनिया की बेईमानी का, दुष्कृत्यों का सबसे बड़ा शत्रु अगर कोई है तो बापूजी हैं। इसलिए उनके ऊपर सबसे ज्यादा हमले (षड्यंत्र) हो रहे हैं। सूरत आश्रम में 2006 के गुरुपूर्णिमा पर मैंने कैमरे के सामने कहा था कि बापूजी! अभी आपके खिलाफ षड्यंत्र चल रहे हैं और जल्दी ही आपकी ऐसी-ऐसी बदनामी होगी कि आप सोच भी नहीं सकते।उस समय मैं डाँग (गुजरात) क्षेत्र से आया था, वहाँ पर बापूजी ने धर्मांतरण रोकने का बहुत बड़ा काम किया था। पिछले 10 सालों में इस देश को गुलाम बनाने से रोकने में सबसे जो बड़ी शक्ति है तो वह आशारामजी बापू हैं। इसी कारण ये सबसे ज्यादा निशाने पर हैं। ऐसे में हम लोगों को पूज्य बापूजी का साथ देना जरूरी है।

मैं यह कहूँगा कि ये सारे चैनल दो कारणों से ऐसा दुष्प्रचार करते हैं। एक तो बड़ा कारण है स्पोंसरशिप, दूसरा कारण है टीआरपी। एक आसान काम है, जब भी ऐसी न्यूज शुरू हो तो देश के करोड़ों भक्त उन चैनलों को बंद कर दें। अगर 6 करोड़ साधक ऐसे चैनलों को बंद कर दें तो ये सारे अनाप-शनाप बोलनेवाले बंद हो जायेंगे। दूसरा, सोशल मीडिया में ऐसे चैनलों के जो पेज हैं उनको डिस्लाइक करें, उस पर अपनी बातों को रखें। तीसरा, ऐसे सम्मेलन तहसील, जिला, राज्य स्तर पर, विभिन्न जगहों पर किये जायें। आखिर आज भी टीवी से कई गुना ज्यादा प्रत्यक्ष सत्संग का परिणाम होता है। सत्य और मजबूत होगा। इस लड़ाई के लिए मीडिया में और अच्छे लोगों की जरूरत है, ‘सुदर्शनजैसे कई चैनलों की आवश्यकता है।’’

डॉ. सुमन (भूतपूर्व पादरी रॉबर्ट सॉलोमन, इंडोनेशिया) : ‘‘धर्मांतरण करनेवाले लोग हमारे पूजनीय बापूजी के खिलाफ साजिश कर रहे हैं। आज समय की माँग है ऊँच-नीच, भेदभाव को समाप्त करके समर्थ हिन्दू समाज का निर्माण!’’

  Comments

HARI OM
Created by NITIN in 10/13/2013 12:34:42 AMHindu sanskruti jo ke is vishwame sabse bada adarsha hai jisme khana, pina, firna, sona, maun, yog sadhana,dhyane. mantra aur unke honewala labh iska prachar bapuji bade jorse kar rahe haiy aur logoko sharirik aur mansik swasthata aur shanti de rahe haiy. .junk food mat khana, soft drinks bhulkar bhi na pina prachar karte haiy. Nirbhay, chintamukta aur swastha jivan bana rahe haiy. Is wichar dharase western log kafi pareshan haiy kyoki unki chijoki bikri thikse nahi hoti. Hindu sanskruti ka jad unki SHRADDHA aur ADHYATMIK TAKAD me haiy AUR WO HI WAY TODNA CHAHATE HAIY. YE SAB FALTU AUR ZUTE ILJAM HAIY.AKHIR ME SATYA MEV JAYATE. Sabhi rajkiya netaose meri vinanti haiy ke samajki naitik mulyaki avehelna na kare, uska kada virodh kare aur Hindu Sanskruti ke sath Saintoki raksha kare.
whole earth will destroy.if this type of elegation will comming regularly. there will not place rema
Created by ritu in 10/11/2013 3:49:28 AM hey ram expose whole conspiracy. if ram remain inside in every humain. it is time every ram should come forward in helping the innocent person.
Jai Bapuji
Created by Arvind Tripathi in 10/9/2013 2:12:13 PMPujya Pujya Param Pujya...Maha Pujya..Jai Bapuji

Your Name
Email
Website
Title
Comment
CAPTCHA image
Enter the code
  
Copyright © Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved. The Official website of Param Pujya Bapuji