Welcome to Ashram.org | Login | Register
Uttarayan 2014

 

 

                                                                        

                                        १४ व १५ जनवरी २०१५ - उत्तरायण विशेष

 

मकरसंक्रांति  (संक्रांति का पुण्यकाल 14 जनवरी दोपहर 1.26 बजे आरंभ होकर 15 जनवरी को सुबह 11.26 तक रहेगा।)

प्रणव’ (ॐ) की जप की विशेष महिमा |

 

मकर संक्रान्ति हिन्दुओं का प्रमुख पर्व है। मकर संक्रान्ति पूरे भारत में किसी न किसी रूप में मनाया जाता है। पौष मास में जब सूर्य मकर राशि पर आता है जब इस पर्व को मनाया जाता है । यह त्योहार जनवरी माह के तेरहवें, चौदहवें या पन्द्रहवें दिन ( जब सूर्य धनु राशि को छोड़ मकर राशि में प्रवेश करता है ) पड़ता है । मकर संक्रान्ति के दिन से सूर्य की उत्तरायण गति प्रारम्भ होती है । इसलिये इसको उत्तरायणी भी कहते हैं। तमिलनाडु में इसे पोंगल नामक उत्सव के रूप में मनाते हैं जबकि कर्नाटक, केरल तथा आंध्र प्रदेश में इसे केवल 'संक्रान्ति' कहते हैं।

 

किस के लिए विशेष ?

 

) जिनके जीवन में अर्थ का अभाव... पैसो की तंगी बहुत देखनी पड़ती है

२) जिनको कोई बहुत परेशान कर रहा है

३) जिनके शरीर में रोग रहते हैं ..मिटते नहीं हैं

 

उन सभी के लिए ये योग बहुत सुन्दर है

क्या करना चाहिए  ?

 

१) तपस्या कर सकें तो बहुत अच्छा है .. नमक -मिर्च नहीं खाना उस दिन

२) आदित्यह्रदय स्त्रोत्र का पाठ भी जरुर करें ..जितना हो सके // बार...

३) जो आप चाहते हैं ...सुबह स्नान आदि कर के श्वास गहरा ले के रोकना ...गायत्री मंत्रबोलना ...संकल्प करना ..."हम ये चाहते हैं प्रभु !...ऐसा हो .." फिर     श्वास छोड़ना ... ऐसा बार जरुर करें फिर अपना गुरु मंत्र का जप करें.

४) सूर्य भगवान की पूजा करे .

सूर्य पूजन विधि  :

१) सूर्य भगवान को तिल के तेल का दिया जला कर दिखाएँ , आरती करें |

२) जल में थोड़े चावल ,शक्कर , गुड , लाल फूल या लाल कुमकुम मिला कर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें |

सूर्य अर्घ्य मंत्र


*ॐ सूर्याय नमः *
*ॐ रवये नमः *
*ॐ भानवे नमः *
*ॐ आदित्याय नमः *
*ॐ माकॅण्डाय नमः *
*ॐ भास्कराय नमः *
*ॐ दिनकराय नमः *
*ॐ दिवाकराय नमः *
*ॐ मरिचये नमः *
*ॐ हिरणगर्भाय नमः*
*ॐ गभस्तिभीः नमः *
*ॐ तेजस्विनाय नमः *
*ॐ सहस्त्रकिरणाय नमः *
*ॐ सहस्त्ररश्मिभिः नमः *
*ॐ मित्राय नमः *
*ॐ खगाय नमः *
*ॐ पूष्णे नमः *
*ॐ अर्काय नमः *
*ॐ प्रभाकराय नमः *
*ॐ कश्यपाय नमः *
*ॐ श्री सवितृ सूर्य नारायणाय नमः *

 

घातक बीमारी दूर करने के लिए :  

रविवार सप्तमी के दिन अगर कोई नमक मिर्च बिना का भोजन करे और सूर्य भगवान की पूजा करे , तो उस घटक बीमारियाँ दूर हो सकती हैं , अगर बीमार व्यक्ति न कर सकता हो तो कोई ओर बीमार व्यक्ति के  लिए यह व्रत करे |

 

 

Contact Us | Legal Disclaimer | Copyright 2013 by Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved.
This site is best viewed with Microsoft Internet Explorer 5.5 or higher under screen resolution 1024 x 768