Welcome to Ashram.org | Login | Register
इस महीने के सेवाकार्यों की झलक Sep. 2014
 

      अविरत बह रही है जनहित गंगा
     पूज्य बापूजी के करोड़ों साधकों का जीवन अपने गुरुदेव से प्राप्त मार्गदर्शन का अनुसरण कर निष्काम सेवा की सुवास से महक रहा है । पिछले १० महीनों से षड़यंत्र में फँसाकर  पूज्य बापूजी को कारावास में रखे जाने से साधक-समुदाय बहुत व्यथित है लेकिन साधकों ने पूज्य बापूजी से प्राप्त प्रेरणा और सीख पर अमल करते हुए जन-कल्याण के सेवाकार्यों को नहीं छोड़ा है । इसके साथ-साथ गुरुदर्शन की आस मन में लिये साधक पूज्य बापूजी की शीघ्र रिहाई व उत्तम स्वास्थ्य के लिए देशभर में प्रार्थना और संकल्प के साथ जप-अनुष्ठान , हवन-यज्ञ आदि में जुटें हैं । साथ ही संकीर्तन यात्राओं व प्रभातफेरियों के माध्यम से समाज में फैले वैचारिक प्रदुषण को दूर कर पूज्यश्री की निर्दोषता की सच्चाई जन-जन तक पहुँचा रहे हैं ।
                                                                                
    जम्मू-कश्मीर में बाढ राहत कार्य
देश में जब-जब प्राकृतिक आपदा जैसे भूकम्प, बाढ, अकाल, सुनामी आदि आयी है, पूज्य बापूजी के मार्गदर्शन में साधकों ने शासन से पहले पहुँचकर राहत सामग्री पहुँचाई और आपदाग्रस्त लोगों को अपना मानकर सेवा की है । यहाँ तक कि आपदा पीडीतों को बापूजी ने घर बनवाकर अपने हाथों से बाँटे हैं । सबमें अपने स्वरूप को देखनेवाले पूज्य बापूजी के इस सिद्धांत को साधकों ने भी जीवन में उतारते हुए ओडीशा में बडे जोरशोर से राहतकार्य किये । इसके बाद हाल ही में जम्मू-कश्मीर में आयी भयंकर बाढ से लाखों लोग चपेट में आये । इनको बाढ से निकालने के लिए भारतीय सेना ने लोगों को बचाने के लिए जान की बाजी लगा दी तो बापूजी के साधकों ने उन दुःखी व भयभीत लोगों को ढाँढस बँधाया और राहत सामग्री पहुँचाई । इसके अंतर्गत दूध, चावल, दाल, हल्दी, मिर्च पाउडर, तेल, तोस्त, सोयाबीन की बडी, बिस्कुट, सूजी, ब्रेड, नमकीन, कुलचे, हलवा, आयुर्वेदिक चाय आदि खाद्य सामग्री के साथ मोमबत्ती, माचिस, बर्तन (जग, डोल, लोटा, हॉटकेस), कंघी, आईना, शैम्पू, टूथब्रश, दंतमंजन, आयुर्वेदिक साबुन, कपडे धोने का पॉवडर व साबुन, सुई-धागा, कैलेंडर, कॉपी-पेन, टॉफी के पैकेट, चप्पल, कपडे आदि दैनिक उपयोगी वस्तुएँ बाटी गयी ।
                                                                                 
       वडोदरा में भी बाढ राहत कार्य
हाल ही में बारिस और आजवा बाँध से पानी छोडे जाने पर वडोदरा (गुज.) के कई क्षेत्रों में पानी भर जाने से आपातकाल की स्थिति बन गयी । यहाँ के सभी बाढग्रस्त इलाकों में ३ दिनों तक साग-पूडी, खिचडी, पुलाव, पानी के पैकेट आदि खाद्य सामग्री बाँटी गयी ।
                                                                           
     राष्ट्र -जागृति यात्राओं से जनजागृति
विधर्मियों द्वारा रचे जा रहे षड्यंत्रों के प्रति देशवासियों को जागरूक कर भारतीय संस्कृति की रक्षा के लिए पूज्य बापूजी के साधकों द्वारा देशभर में राष्ट-जागृति यात्राएँ निकाली जा रही हैं ।

    १) राजस्थान में कापरडा, बिलाडा जि. जोधपुर, जैतारण जि. पाली; अजमेर, ब्यावर, नसीराबाद, बन्दनवारा जि. अजमेर, गुलाबपुरा, आन्सोदी, शाहपुरा जि. भीलवाडा, जवाजा, जालमपुर, दौलतगढ, बागौर, मांडल, कोटडी, पुष्कर, किशनगढ, विजयनगर, भीम, भीलवाडा, टोंक, देवली जि. टोंक, बिल्लारा, निवाई, जयपुर, भिवाडी जि.अलवर, पिलानी , नवलगढ जि. , चुरू , तंगद , रतननगर जि.चुरू, झुंझुनू , खाटूश्याम, चौमू, बगरू, रेनवाल जि. जयपुर, सीकर, रिंगस जि. सीकर, दातारामगढ जि.सीकर, महारौली , माधोपुर, छालागाँव , अजीतगढ जि. सीकर, शाहपुर , मंडावर जि.दौसा, रूपवास जि.भरतपुर, भरतपुर सहित सैकडों स्थानों पर यात्राएँ निकाली गयीं ।

    २) गुजरात में बडौदा, नंदेसरी, मांजलपुर, पादरा, रंडोली, जम्बूसर जि. बडौदा; भरूच, आमोद, कर्जन, किम, अंकलेश्वर, मातर जि. भरूच; कोसम्बा, सूरत, अडाजन, ओलपाड, पांडेसरा जि. सूरत; भेटासी, आणंद, वासद, पेटलाद, बोरसद, सोजित्रा, सारसा, उमरेठ, ओड, कासोर, पानसोरा जि. आणंद; निडयाद, डाकोर, चकलासी जि. खेडा, झाकुवा, मांटवी, मढी आदि स्थानों पर यात्राएँ निकाली गयीं ।

    ३) महाराष्ट में जन्माष्टमी से शुरु हुई यात्रा धुलिया, शिन्दखेडा, मामा चे मोहिदा, सारंगखेडा, ब्रह्मपुरी, लोनखेडा, शहादरा, परिवर्धा, काथर्डा, खापर, पडला, तिखोरा, तलोदा जि. नंदुरबार, नंदुरबार, सटाना, मालेगाँव, निफाड, सिन्नर जि. नासिक, येवला, चाँदवड, लासलगाँव आदि स्थानों में निकाली गयीं ।
    यात्रा जहाँ-जहाँ पहुँचती है, वहाँ का वातावरण गुरु माउली, विठ्ठल माउली के मधुर संकीर्तन से मधुमय बन जाता है ।

    ४) मध्यप्रदेश में राष्ट-जागृति यात्रा का शुभारम्भ भाद्रपद पूर्णिमा के पावन दिन इंदौर आश्रम में हुआ । माननीय मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीयजी ने इस यात्रा में सभी नागरिकों को शामिल होने का आह्वान किया । इन्दौर से होते हुए महू, बिजलपुर, उज्जैन, नलखेडा जि. आगर आदि कई स्थानों पर निकाली गयीं ।

    ५) बिहार में १४ सितम्बर २०१४ से पटना राष्ट-जागृति यात्रा का शुरुआत हुई । 

     ६) हरियाणा में राष्ट-जाग्रति यात्रा का शुभारम्भ फरीदाबाद में हुआ । सीकरी, पलवल जि. फरीदाबाद, गुडगाँव, रेवाडी, दादरी, महिंद्रगढ, बहादुरगढ, रोहतक, महम जि. रोहतक आदि स्थानों पर होते हुए यह यात्रा निरंतर आगे बढ रही है ।

    ७) उत्तर प्रदेश में संकीर्तन यात्रा का शुभारम्भ लखनऊ से हुआ । अतरौला , लालगंज, प्रतापगढ, मुसाफिरखाना, सुल्तानपुर, चाँडा जि. सुल्तानपुर, लम्बुआ, कादीपुर, कानपुर आदि स्थानों पर कीर्तन यात्राएँ निकाली गयीं । इन राष्ट-जागृति यात्राओं में लोगों ने बडी संख्या में उत्साहपूर्वक सम्मिलित होकर समाज को जगा रहे हैं ।

                                                             
                                                                   


देशभर में संकीर्तन यात्राएँ तथा प्रभातफेरियाँ पिछले १ वर्ष से अधिक समय से नियमितरूप से निकाली जा रही हैं । गाजियाबाद में अखंड प्रभातफेरी व सुप्रचार यात्रा को ३६६ दिन, सिरसा (हरियाणा) में १७० दिन  तथा भुवनेश्वर उड़ीसा में १५७ दिनों से सुप्रचार प्रभातफेरी लगातार निकाली जा रही है । देश के अन्य स्थानों पर भी साप्ताहिक अथवा सप्ताह में दो बार (गुरुवार/रविवार) प्रभातफेरियाँ अथवा संकीर्तन यात्राएँ निकलने का सिलसिला निरंतर जारी है । जंतर-मंतर, दिल्ली में पिछले १ साल १ महीने से धरना प्रदर्शन जारी है ।

                                                                     
          नारी शक्ति मार्च 


   नारी-सुरक्षा के लिए बने नये कानूनों का निर्दोषों को फँसाने के लिए खुलकर दुरूपयोग किया जा रहा है – इससे समस्त महिला समुदाय कलंकित हो रहा है – ऐसे ज्वलंत मुद्दों पर देश का ध्यान आकर्षित कर जागृति लाने के लिए ‘अखिल भारतीय नारी रक्षा मंच ’ ने पहल की और अनेक महिला संगठनों ने मिलकर २० सितम्बर को साउथ  दिल्ली में साकेत मैट्रो स्टेशन से पुष्पविहार-मदनगीर-विराट सिनेमा-संगम विहार-बदरपुर से मीठापुर-जैतपुर तक  विशाल ‘नारी शक्ति मार्च ’ निकाला ।
    
    इस रैली में महिलाओं का मानो सागर उमड़ पड़ा था । अनेक एनजीओज एवं धार्मिक , सामाजिक संगठनों एवं कार्यकर्ताओं ने भी इसमें भाग लिया । दोपहर की चिलचिलीती धूप में , सत्य के पक्ष में हाथों में तख्तियाँ लेकर नारे देती हुई जागरूक नारियों का यह मार्च घंटों तक चला पटना

                  विद्यार्थियों को योग व उच्च संस्कार 
बच्चों को सही दिशा व अच्छे संस्कार देने के लिए पूज्य बापूजी की प्रेरणा से देशभर के महाविद्यालयों में ‘योग व उच्च संस्कार ’ कार्यक्रम चल रहे हैं ।

    १)  भेदाघाट,जिला-जबलपुर (म.प्र.), सागर (म.प्र.), चितरी-डूंगरपुर (राज.), राजकोट (गुज.), कारवाल नगर , करतार नगर , सोनिया विहार (दिल्ली), राउरकेला (उड़ीसा) आदि विभिन्न स्थानों पर विद्यार्थीयों में ‘योग व उच्च संस्कार ’ कार्यक्रम किये गये ।

    २) चंडीगढ़ में विद्यार्थियों में नोटबुक-वितरण हुआ तथा हैदराबाद , शमशाबाद , जबलपुर आदि में नोटबुक , पेन , स्टीकर आदि वस्तुओं के साथ विभिन्न बाल-उपयोगी सत्साहित्य का भी वितरण किया गया ।

    ३) वापी (गुज.), लखनऊ, जौनपुर , बरेली , जयपुर (राज.) में ज्योत से ज्योत जगाओ सम्मलेन का आयोजन किया गया ।
 
                                                  
    विविध सेवाकार्यों पर एक झलक    

पूज्य बापूजी की प्रेरणा से चलाये जा रहे समाजोत्थान के विविध सेवाकार्य निरंतर जारी हैं । 

    १) करोलबाग-दिल्ली एवं दाहोद (गुज.) के कावड़ियों (शिवभक्तों) में भंडारा हुआ ।

    २) भुवनेश्वर में भंडारे के साथ ओजस्वी चाय, फल, औषधि (मालिश तेल, अमृत द्रव,) आदि भी दिये गये ।

    ३) गोधरा (गुज.) , हैदराबाद , इंदौर आदि के गरिबों में अनाज-वितरण किया गया ।

    ४) पलौडा जि.जम्मू में ' सत्संग प्रचार सेवा मंडल ' द्वारा भंडारे का आयोजन किया गया ।

    ५) श्रीगंगानगर (राज.) में पलाश शरबत का वितरण हुआ । 

    ६) खरगोन (म.प्र.) में मेले में जल-प्याऊ लगायी गयी तथा शरबत एवं सत्साहित्य वितरण हुआ । 

    ७) शाजापुर , पेटलावद जि.झाबुआ (म.प्र.) के गरीबों में भंडारे का आयोजन किया गया ।         

    ८) जींद (हरि.) में हुए ' गौ-सम्मलेन ' में शरबत वितरण किया गया । 

    ९) भावनगर (गुज.) के गरीबों में गर्म भोजन के डिब्बे बांटे गये ।

    १०) होशियारपुर (पंजाब) में ' युवा सेवा संघ ' द्वारा लंगर चलाया गया एवं जीवनोंद्धारक सत्साहित्य का वितरण हुआ । 

    ११) रायपुर , भुवनेश्वर ,पटियाला व लखनऊ में वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत नीम , आंवला , तुलसी , पीपल आदि लाभकारी वृक्ष लगाये गए ।


 



print
The comment feature is locked by administrator.
Sort by:
Samithi -Samachar


पूज्‍य बापूजी की पावन प्रेरणा से रविवार 2 नवंबर को पंडरी तराई , रायपुर (छ ...

Unique Views:4682
 


Details of Nationwide Shradha Karma .

Unique Views:1102
 


Overview of social service activities carried out by  Yog Vedant Seva Samitis from all over India....

Unique Views:1053
 
Contact Us | Legal Disclaimer | Copyright 2013 by Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved.
This site is best viewed with Microsoft Internet Explorer 5.5 or higher under screen resolution 1024 x 768